Tour and Travels

मोइनुद्दीन चिश्ती
ख़्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिष्ती : भारत के सूफी संत हैं। जिन की मज़ार अजमेर शहर में है। यह माना जाता है कि मोइनुद्दीन चिश्ती का जन्म ५३६ हिज़री संवत् अर्थात ११४१ ई॰ पूर्व पर्षिया के सीस्तान क्षेत्र में हुआ।[8] अन्य खाते के अनुसार उनका जन्म ईरान के इस्फ़हान नगर में हुआ।
More
क्यों हम दिल्ली में अक्षर धाम देखें
नई दिल्ली में स्थित स्वामीनारायण अक्षरधाम जो 10,000 वर्ष पुरानी भारतीय संस्कृति के प्रतीक को बहुत विस्मयकारी, सुंदर, बुद्धिमत्तापूर्ण और सुखद रूप से प्रस्तुत करता है। यह भारतीय शिल्पकला, परंपराओं और प्राचीन आध्यात्मिक संदेशों के तत्वों को शानदार ढंग से दिखाता है। अक्षरधाम एक ज्ञानवर्धक यात्रा का ऐसा अनुभव है जो मानवता की प्रगति, खुशियों और सौहार्दता के लिए भारत की शानदार कला, मूल्यों और योगदान का वर्णन करता है।

More
हिमालय की दो अनाम चोटियों का नाम होगा अटल-1 व अटल-2, जानिए किस सरकार ने उठाया ये कदम
लखनऊ/देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद और नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (निम) की टीमों को संयुक्त रूप से आयोजित संयुक्त अटल पर्वतारोही अभियान के तहत गंगोत्री ग्लेशियर स्थित दो अनाम चोटियों के लिए हरी झंडी दिखाकर रवाना किया.

More
अरुणाचल राइजिंग कैंपेन: प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर विजयनगर में पर्यटन को बढ़ावा देंगे सीएम पेमा खांडू
ईटानगर: अरुणाचल प्रदेश का सुदूरवर्ती हिस्सा विजयनगर जिसे प्रकृति ने भरपूर सौन्दर्य से नवाजा है. इस खूबसूरत इलाके की सीमा तीन तरफ से म्यामां से लगी हुई है जबकि इसका चौथा हिस्सा नामदफा नेशनल पार्क से लगा हुआ है लेकिन यहां पहुंचना सुगम नहीं है. ‘अरुणाचल राइजिंग कैंपेन’ में हिस्सा लेने विजयनगर पहुंचे राज्य के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने अब इस क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अपनी प्राथमिकता पर लिया है.


More
भारतीय स्वाधीनता की प्रमुख धरोहरें जो बन चुके हैं पर्यटन स्थल
भारत को आजाद कराने में हमारे वीरों ने अपने प्राणों को कुर्बान कर दिया। भारत को ब्रिटिश हुकूमत से आजाद कराने के लिए भारत के लिए कई लड़ाई लड़ी गई, बहुत सारें आंदोलन किए गए स्वतंत्रा सेनानियों ने अपनी जान को हंसते हंसते कर्बान कर दिये। जिनको आज तक भारत ने अपने इतिहास के रुप में समेट कर रखा हुआ है जो अब पर्यटन के स्थल बन चुके हैं।


More
ऋषिकेश को भारत के साहसिक खेलों की राजधानी के रूप में चिन्हित किया गया
भारत सरकार द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार ऋषिकेश को भारत की साहसिक खेलों की राजधानी के रूप में चिन्हित किया गया है। लोकप्रिय और तीव्र राफ्टिंग रैपिड्स के साथ-साथ भारत के सर्वोच्च बंजी जंपिंग प्लेटफार्म की मेजबानी करने वाला ऋषिकेश इस वर्ष एडवेंचर प्रेमियों की पहली पसंद रहा। एडवेंचर प्रेमियों की पसंद के मामले में गोवा दूसरे, जबकि केरल तीसरे स्थान पर रहा है।

More
असम में देखने के लिए कुछ बेहतरीन जगह

काजीरंगा

काजीरंगा राज्य के गौरव, एक सींग वाले राइनो सहित कई विदेशी प्रजातियों के संरक्षण के लिए प्रसिद्ध है। अन्य शायद ही कभी पाए जाने वाले जानवर और लुप्तप्राय प्रजातियाँ जिन्हें यहाँ देखा जा सकता है जैसे कि हूलॉक गिबन्स, स्वैम्प हिरण, तेंदुआ बिल्लियाँ, सिवेट बिल्लियाँ, बाघ आदि। जंगल का विस्तृत भूभाग आलीशान वनस्पतियों में शामिल है।लंबा हाथी घास, दलदली भूमि और घने उष्णकटिबंधीय नम चौड़ी पत्ती वाले जंगल। काजीरंगा भी एक महत्वपूर्ण 'पक्षी क्षेत्र' है, जिसे बर्डलाइफ इंटरनेशनल ने मान्यता प्रदान की हैविदेशी पक्षियों की विभिन्न प्रजातियों जैसे अभयारण्य जैसे हॉर्नबिल्स, ग्रे हेडेड फिश ईगल, पेलिकन, बेलीथ्स किंगफिशर और कई अन्य। एक हाथी सफारी या एक जीप सफारी भी यहाँ उपलब्ध है।



More
A Beautiful Destination of the World of Singapore
Apart from Dubai, Singapore is a tourist spot, which is at the top of the other overseas tourists destinations. There is a good number of Indians in Singapore, many Indian dishes will also be found here. There are many dishes in the food stalls spread over here. More
Tourism in Darjeeling
Darjeeling, popularly known as the “Queen of hills” is situated at an altitude of about 6,800 feet and is the only hill station in the state of West Bengal.
More
आगरा के दर्शनीय स्थल
आगरा मुगल साम्राजय की चहेती जगह थी। आगरा 1526 से 1658 तक मुग़ल साम्राज्य की राजधानी रहा। आज भी आगरा मुग़लकालीन इमारतों जैसे - ताज महल, लाल किला, फ़तेहपुर सीकरी आदि की वजह से एक विख्यात पर्यटन-स्थल है।
More

© 2016 to 2019 www.allinoneindia.net , All rights reserved.