बालों की आम समस्याएं और उनके इलाज


बालों की आम समस्याएं और उनके इलाज

बालों की सफाई न होने के कारण बालों की जड़ों में जमी पपड़ी की वजह से बालों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन तथा उचित पोषण नहीं मिल पाता है, जिसकी वजह से बाल अनाकर्षक हो जाते हैं और बालों का उड़ना, असमय बाल सफेद होने, डेंड्रफ आदि कई बिमारियों को पैदा कर सकता हैं। 

बालों की आम समस्याएं और उनके इलाज

बालों की आम समस्याएं और उनके इलाज – डेंड्रफ (रूसी) सिर की त्वचा की फालतू कोशिकाएं पपड़ियों के रूप में निकलती हैं तो इस अवस्था को डेंड्रफ  कहा जाता है और इसके कई कारण हो सकते हैं। यह सिर की सूखी या चिपचिपी त्वचा दोनों में ही आनुवंशिक, पर्यावरण या आहार किसी भी कारण से हो सकती है।

सिर की सूखी त्वचा में या आहार में प्रोटीन की कमी से हो सकती है। सिर की चिपचिपी त्वचा में सीबम या ‘प्राकृतिक तेल’  के अधिक उत्पादन के कारण पपड़ियां पैदा हो सकती हैं। दरअसल डेंड्रफ  भी त्वचा ही है जो सिर की त्वचा से पपड़ियों के रूप में निकलती है, किंतु किसी वजह से इसका झड़ना बढ़ जाता है। अगर इसका इलाज नहीं किया जाए तो बालों  से यह चेहरे तक भी बढ़ सकती  है। डेंड्रफ  काफ़ी बढ़ जाने से (जिसमें बाल भी झड़ सकते हैं) उसका फौरन इलाज करने की ज़रूरत है। इस सूरत में किसी Trichologist (केश विशेषज्ञ) को दिखाएं। 

सिर की रूखी त्वचा में डैंड्रफ़ आजमाएं ये घरेलू उपाय

जब हम अच्छी सेहत की बात करते हैं, तब हमारे सिर में भी किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। लेकिन बालों में डैंड्रफ़ यानी कि रूसी होना एक आम समस्या हो गई है। यह सिर की त्वचा के रूखेपन के कारण होती है और अन्य कई समस्याओं को जन्म देती है। आइए हम आपको खराब दिखने वाले डैंड्रफ़ के छुटकारा दिलाने के कुछ सटीक घरेलू उपाय बताते हैं-

  1. बालों को स्वस्थ रखने और समस्याओं से बचने के लिए तेल की मसाज बेहद आवश्यक है। बालों में तेल न लगाने के कारण त्वचा रूखी होती है, जिससे रूसी की समस्या होती है। इससे बचने के लिए आप नारियल तेल, बादाम तेल या फिर जैतून के तेल की मालिश कर सकते हैं। मालिश के लिए हल्के गुनगुने तेल का इस्तेमाल करना बेहतर होता है।
  2. रूसी से निपटने के लिए नींबू के रस में शहद मिलाकर बालों पर लगाने से फायदा होता है। नींबू में प्राकृतिक अम्ल होता है जो रूसी को आसानी से खत्म कर देता है और शहद रूखापन दूर करने में मदद करता है। इसमें किसी तेल को मिलाकर भी सिर की त्वचा पर लगाया जा सकता है।
  3. सि‍र की त्वचा से रूखापन हटाने के लिए जैतून का तेल बेहद लाभप्रद होता है। यह आश्चर्यजनक रूप से सूखे और रूसी वाले बालों के लिए फायदेमंद होता है। शहद के साथ भी इसका प्रयोग किया जा सकता है। शहद में संक्रमण विरोधी के साथ सूजन विरोधी गुण भी पाया जाता है।
  4. सिरका आपके बालों को रूखेपन से बचाने में मदद करता है और आपके सिर से रूसी की परत हटाता है। आप सिरके से अपने बालों पर मालिश करें और 15 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद शैंपू से बालों को धो लें, रूखापन कम हो जाएगा।
  5. दही में भी प्राकृतिक रूप से अम्ल होता है, जो रूसी को खत्म कर रूखापन खत्म करने में मदद करता है। इसके लिए दही में बेसन या शहद को मिलाकर अपने सिर की त्वचा पर आधा घंटा लगाकर रखें और शैंपू से धो लें। दही के साथ अंडे का सफेद हिस्सा भी बालों में लगाया जाता है। इस प्रयोग से रूसी की समस्या समाप्त हो जाएगी। 

दो मुंहे बालों की रोकथाम के लिए सुझाव

लम्बे बालो की इच्छा बहुत सारी महिलाओ की चाह होती है पर सही ढंग से बालो की गौर न करने के कारण अक्सर दो मुंहे बालो (split end hair) की समस्या से दो चार होना पड़ता है ! दो मुंहे बालों के कारण न केवल आपके बालो की खूबसूरती में एक दाग लगता है  बल्कि दो मुंहे बालो की वजह से ज्यादा लम्बे बाल बनाए रखना भी मुश्किल हो जाता है ! लेकिन समय रहते बालो की ठीक से देखभाल की जाये तो दो मुंहे बालों से छुटकारा मिल सकता है !

दो मुंहे बालों की समस्या से बालों की खूबसूरती खत्म न हो जाए इसके लिए कुछ बातों का ख्याल रखा जा सकता है।

  • सबसे जरुरी बात अपने आहार में पर्याप्त मात्रा में Protein युक्त चीजे ले जैसे – सूखे मेवे, बादाम अखरोट, सोया मिल्क, कद्दू के बीज, मूंगफली, बादाम, अंकुरित दालें, दूध, पनीर आदि और कोशिश करे कि हमेशा संतुलित आहार ही ले क्योंकि बालों और चेहरे की खूबसूरती में वही झलकता है, जो आपके आहार में मौजूद होता है।
  • हफ्ते में कम-से-कम दो बार बालों की अच्छी तरह से तेल की मालिश करे और फिर hair Steam देकर उन्हें प्रकृति के अनुरूप शेंपू से धो दें।
  • दो-मुंहे बालों से छुटकारा पाने के लिए बालों को सदैव धीरे-धीरे सुलझाएं। इससे बाल नीचे के सिरों से फटते नहीं हैं। बीच-बीच में गरम पानी से भाप लेती रहें।
  • सप्ताह में एक बार ट्रिमिंग करवाती रहें जिससे बाल दो-मुंहे न होने पाएं।
  • यदि सारे या कुछ बाल दोमुंहे हो गए हों, तो प्रात: अमरूद के ताजे पत्तों को पानी में उबालकर उसके काढ़े से बालों को प्रतिदिन धोएं।
  • दोपहर को नीम के ताजे पत्तों को पानी में उबालकर उसके काढ़े से बालों को प्रतिदिन धोएं। 
  • शाम को बालों में नियमित रूप से आंवला Amla या नारियल तेल और थोड़ा-सा पानी मिलाकर बालों की जड़ों में मालिश करें |
  • गीले बालों में कर्घी न करें।
  • जितना हो सके, बाल खुला न छोड़ें। बालों की धूल, धूप और धुएं आदि से बचाएं। किसी अच्छे कॉस्मेटिक क्लिनिक में बॉयोट्रान व ओजोन की सिटिंग लें |
  • हर बार बाल ‘धोने के बाद उन्हें कंडीशनिंग देना न भूलें। इनसे बालों पर एक हल्की नरम परत चढ़ जाती है, जो बालों को तो नरम और चमकीला बनाती है तथा धूल मिटटी से भी सुरक्षा कवच का काम करती है।
  • इसके अलावा conditioner का इस्तेमाल उस वक्त और भी ज्यादा जरूरी हो जाता है जब बालों में किसी भी तरह का केमिकल ट्रीटमेंट लिया गया हो, यानी उनमें Hair colouring, hair Perming, straightening आदि करवाई गई हो । इन सब टिप्स को ध्यान में रख कर आप दो मुंहे बालों से बच सकते है !
  • अपने बालों को अधिक तापमान से बचाएं। उलटी कंघी न करे, रबर बैंड भी न लगाये।  गीले बालों पर ब्रश या कंघी न करें ।
  • हर पांच या छह हफ्ते बाद सैलून जाकर दो मुंहे बालों को कतरवा लें।

कम उम्र में दाढ़ी पर सफेद बाल 

इन दिनों असमय बालों की सफेदी एक आम समस्या है। सिर के बालों को तो युवा जैसे-तैसे कलर कर लेते हैं लेकिन लड़कों की समस्या और बढ़ जाती है, जब उनकी दाढ़ी पर भी सफेद बाल उगने लगते हैं। कम उम्र में दाढ़ी पर भी सफेद बाल आने से उम्र ज्यादा लगने लगती है जिससे युवाओं का आत्मविश्वास भी कम होता है। ऐसे में यदि आपको कुछ ऐसे उपाय मालूम चल जाएं जिससे कि आपकी दाढ़ी के बाल वापस काले आने लगें तो आपको उन्हें जरूर आजमाना चाहिए।

दाढ़ी के बालों को काला करने के कुछ आसान से उपाय-

  1. कड़ी पत्ते का पानी बालों को काला करने में काफी मदद करता है। आप कड़ी पत्तों को थोड़े से पानी में उबाल लें। फिर इस पानी को ठंडा करके छानें और अब पीएं। ऐसा नियमित करने से फायदा होगा।
  2. दो चम्मच प्याज का रस लें, इसमें पुदीने की पत्तियों को मिला लें। आधा कटोरी अरहर की दाल और आलू को पीसकर इन सभी का पेस्ट बना लें। अब इसे दाढ़ी के बालों में लगाएं, इससे फायदा होगा।
  3. गाय के दूध से बने मक्खन को दाढ़ी के बालों पर रोज मालिश करें। इससे दाढ़ी का कालापन बना रहता है।
  4. आधा कटोरी कच्चे पपीते को पीसकर इसमें चुटकी भर हल्दी और 1 चम्मच एलोवेरा का ज्यूस मिला लें। अब इसे दाढ़ी पर लगाने लगाएं।
  5. फिटकरी को पीसकर इसका पाउडर बना लें, इस पाउडर में गुलाब जल मिलाएं। अब इस पेस्ट को दाढ़ी पर लगाएं।
  6. आंवले को हमेशा से बाल सफेद होने पर अबसे पहले याद किया जाता रहा है। आप लगातार 1 महीने तक आंवले का रस पीएं, इससे भी आपको फायदा मिलेगा।

असमय बाल सफेद होने से बचाने के लिए इन बातों का ध्यान रखें 

  • बालों को सफेद होने से बचाने के लिए नियमित दिनचर्या, बालों की उचित सफाई, संतुलित आहार, व्यायाम, अच्छी नींद की आवश्यकता होती है।
  • बालों की सफाई न होने के कारण बालों की जड़ों में जमी पपड़ी की वजह से बालों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन तथा उचित पोषण नहीं मिल पाता है, जिसकी वजह से बाल अनाकर्षक हो जाते हैं और बालों का उड़ना, असमय बाल सफेद होने, डेंड्रफ आदि कई बिमारियों को पैदा कर सकता हैं।
  • असमय बाल सफेद होने से बचाने के लिए अधिक समय जुकाम न रहने दें व तुरन्त उपचार करायें
  • प्राकृतिक (Hair Dyes) का इस्तेमाल करें जैसे- मेंहदी, चायपत्ती का पानी, और चुकंदर का रस |
  • बालों को अधिक गर्म पानी से न धोएं।
  • एक-दो बाल सफेद होने पर उन बालों को तोड़े नहीं। ऐसा करने से बाल अधिक सफेद होने लगते हैं।
  • थोड़े बाल सफेद होने पर डाई न करवाएं। इससे काले बालों पर भी प्रभाव पड़ता है। बाल और ज्यादा तेजी से सफेद होने लगते हैं।
  • असमय बाल सफेद होने से बचाने के लिए बालों को धोने के लिए साबुन या शैम्पू की अपेक्षा प्राकृतिक सामग्री रीठा, बेसन, आंवला  दही आदि का इस्तेमाल करें।
  • अत्यधिक मोठी चीजें, तेल, मसालेदार भोजन, धुम्रपान, शराब व नशीली वस्तुओं का सेवन न करें।
  • बालों को सुखाने के लिए हेयर ड्रायर का इस्तेमाल न करें। बालों पर स्प्रे भी न करें।
  • तेज खुशबूदार साबुन और तेल बालों में न लगाएं। इनसे भी बाल सफेद होने लगते हैं।
  • नियमित रूप से सिर की मालिश करें व भाप दें। इससे आप असमय बाल सफेद होने की समस्या से बचें रहेंगे |
  • बालों को तेज धूप में ढककर चलें क्योंकि सूर्य से निकली अल्ट्रा वायलेट किरणें बालों को सफेद बना सकती हैं।

असमय बाल सफेद होने से बचाने के लिए खानपान सम्बंधी सुझाव 

Best Foods Tips To Avoid Premature White Hair.

  • अपने भोजन में दही को आवश्यक रूप से शामिल करें। दही बालों को काला बनाये रखने में बहुत उपयोगी है। 
  • असमय बाल सफेद होने से बचाने के लिए और बालों को काला बनाए रखने के लिए शरीर में प्रोटीन, विटामिन ‘ए’, ‘बी-काम्पलेकस’, ‘सी’, ‘डी’, ‘ई”, कैलि्शयम, आयोडीन, फास्फोरस, ऑयरन, कॉपर आदि तत्वों की पूरी मात्रा की आवश्यकता होती है।
  • शरीर को उक्त सभी तत्व मिलते रहें, इसके लिए अपने आहार में दूध, मक्खन, पनीर, पालक, चौलाई, नींबू (Lemon), आंवला, खजूर, अंगूर, सेब, संतरा, मौसमी, हरी सब्जी, ताजे फल, अंकुरित खाद्यान्न, चोकर वाला आटा, बिना पालिश किया हुआ चावल आदि शामिल करें।
  • सर्दियों के मौसम में यदि प्रतिदिन एक पत्तागोभी खाई जाए तो एक महीने में ही आपको बालों में फर्क नजर आ जाएगा।
  • आयरन का सबसे बेहतरीन स्रोत है “बथुआ” सर्दियों में कम से कम एक समय इसको जरुर खाएं चाहे तो सब्जी, रायता, परांठा या अन्य किसी व्यंजन के रूप में ऐसा करने से आप केवल एक ही सीजन में फर्क महसूस करने लगेंगे |
  • फल-सब्जियों के विटामिन शरीर में अधिक मेलानिन की उत्पत्ति करते हैं, जिसके कारण बाल काले बने रहते हैं।
  • सब्जियों का सेवन सलाद या सूप के रूप में करना चाहिए।
  • नारियल की गिरी खाने और नारियल का पानी पीने से बाल लंबे और काले रहते हैं।
  • पानी का सेवन खूब करें दिन में कम से कम आठ से दस गिलास पानी जरुर पीयें |
  • गेंहू के पौधे का रस पीने से सफेद बाल काले होने लगते हैं।
  • बालों को काला करने तथा उन्हें झड़ने से रोकने में मछली का तेल भी बहुत लाभदायक है। यदि आप मांसाहारी हैं असमय बाल सफेद होने से बचाने के लिए मछली का सेवन अधिक करें।
  • आप चाहें तो सफेद बालों के इलाज के लिए Homeopathy Treatment grey hairs भी ले सकते है साइड इफ़ेक्ट रहित ये उपचार आपको इस बीमारी से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है |

बालों के गिरने के कारण

  • बालों के झड़ने के मुख्य कारणों में अस्वच्छता, आनुवंशिकता बीमारी , डेंड्रफ, कुपोषण, डायटिंग, मानसिक तनाव, फंगस या बैक्टीरिया का संक्रमण, अनिद्रा, नींद की गोलियों का सेवन करना आदि आता है | 
  • इन सबके अलावा Hair Fall (बालों का झड़ने) का कारण बालों की जड़ो में तेल न लगाना अधिक दिनों तक गर्भ-निरोधक गोलियों का सेवन करना आदि भी होता है | 
  • गर्भावस्था (Pregnancy) में शरीर में प्रोजेस्टेटान नामक हार्मोन की वृद्धि हो जाने से इसका सीधा प्रभाव बालों पर पड़ता है, इसकी वजह से भी किसी-किसी महिला के बाल गिरने (Hair Fall) लगते हैं। खून की कमी या अनीमिया से भी बाल झड सकते है |
  • सिर पर चोट लगने या बालों में ज्यादा कास्मेटिक्स जैसे हेयर स्प्रे, हेयर सेटिंग क्रीम आदि का आधिक इस्तेमाल करने से भी बाल गिरने लगते हैं।
  • बालों को अधिक कसकर बांधना भी बालों के झड़ने का कारण हो सकता है।
  • थाइरोइड (Thyroid) भी बालो के झड़ने का कारण हो सकता है | अगर आपके बाल बहुत ज्यादा झड़ते है तो आप किसी लैब में इसका टेस्ट करवा सकते है |
  • विटामिन बी के निम्न स्तर या असामान्य स्तर भी बालों के झड़ने का कारण होता हैं।
  • विटामिन A की जरुरत से ज्यादा मात्रा भी बालों के जड़ने का कारण हो सकता है |

बालों को झड़ने से रोकने के उपाय 

  • अगर बाल गिर रहे हैं, तो बालों में ब्लीच, डाई, सेटिंग आदि न करवाएं।
  • बालों को सुखाने के लिए हेयर ड्रायर का इस्तेमाल न करें।
  • दिन भर में कई बार कंघी करें। कंघी करने से सिर की त्वचा में बाल मजबूत होते हैं।
  • बालों को धोने के लिए सामान्य तापमान वाले पानी का प्रयोग करें। अधिक गरम पानी, बालों की जड़ों को नुकसान पहुंचाता है।
  • नहाने के बाद बालों को कपड़े से जोर-जोर से रगड़कर न सुखाएं। मुलायम रोएं दार टावेल को हलके हाथों से बालों पर फेरकर बालों को सुखाएं।
  • तेज धूप में खड़े होकर बालों को न सुखाएं। तेज धूप से बाल कमजोर हो जाते हैं और बाल गिरने लगते हैं।
  • बालों को स्वाभाविक रूप से सूखने दें। गीले बालों में कंघी न करें, इससे बाल अधिक गिरने लगते हैं।
  • बालों की संवारने के लिए गोल मुंह वाले, चौड़े दांतों वाले कंधे या ब्रश का इस्तेमाल करें। बालों की जड़ो में नियमित रूप से मालिश करें।
  • बालों की मालिश के लिए अपनी उगलियों से बालों की जड़ों की मालिश करें। सिर को थपथपाएं तथा अपनी ऊंगलियों में बालों को फंसाकर धीरे से खींचें । ऐसा करने से सिर की त्वचा में रक्त संचार तेजी से होने लगेगा, जिससे बालों को पोषकता व मजबूती मिलेगी।
  • Hair Fall से बचने के लिए पौष्टिक आहार का सेवन करें। अपने आहार में हरी सब्जी, ताजे फल, सूखे मेवे, दूध, पनीर, अंकुरित अन्न, विटामिन ‘ए’, ‘बी–काम्पलेक्स’, ‘सी’, ‘डी’, प्रोटीन, आयरन आदि से भरपूर खाद्य पदार्थों को शामिल करें।
  • Hair Fall से बचने के लिए पानी भरपूर मात्रा में पिए बालों की जड़े तभी मजबूत होंगी जब उनमे रक्त संचार ठीक से होगा उसके लिए शरीर में पर्याप्त पानी का होना बहुत जरुरी है रोजाना दस से बारह गिलास पानी अवश्य पियें |
  • शीर्ष आसन करने से सिर में रक्त संचार तेज हो जाता है जिससे बालों की जड़ो को पोषण मिलता है इसलिए नियमित रूप से योग आसन करें |
  • इस बात का खास ख्याल रखें कि आपके सिर में डेंड्रफ (Dandruff) न हो।
  • तनावमुक्त रहें हमेशा हंसते मुस्कराते रहे और पौष्टिक आहार लें।
  • बालों की सिंकाई – सप्ताह में एक बार गरम-ठंडे पानी से बालों की सिंकाई करें। इसके लिए पहले गर्म पानी में टॉवेल को भिगोकर अच्छी तरह से निचोड़ लें और इसे सिर पर अच्छी तरह से लपेट लें। इसे सिर पर दो मिनट तक रखें। इसके बाद टॉवेल को ठंडे पानी में डुबोकर निचोड़ लें और इसे सिर पर दो मिनट तक लपेटकर रखें। यह क्रिया पांच से दस बार करें। इससे बालों को मजबूती मिलती है और बालों का झड़ना (hair fall ) बंद होता है।
  • hair fall से बचने के लिए अपने खाने में प्रोटीन युक्त आहार को विशेष रूप से शामिल करे जैसे , दूध , पनीर , मछली , अंडे, सोयाबीन, अंकुरित दालें आदि शामिल करें |
  • बाजार ज्यादातर में हेयर जेल ,शैंपू, कंडीशनर और हेयर ऑयल भी रसायनयुक्त मिलते हैं, जो कि बालों को कई तरह से नुकसान पहुंचाते हैं। अधिकतर कास्मेटिक उत्पाद में केमिकल रहते हैं, जो बालों को कमजोर करने के साथ-साथ बालों से संबंधित अन्य समस्याओं को भी जन्म देते हैं। जिनमे से hair fall एक मुख्य बीमारी है |
  • Hair Style बार-बार न बदले बालों को अलग -अलग दिशा में मोड़ने से जड़े कमजोर हो जाती है, और hair fall का कारण बनती है | इसलिए बालो पर नित नए प्रयोग करने से बचें |
  • बालों में Color, Straightening और Ironing आदि करवाने से बचें लेकिन फिर भी आपको करवाना है तो किसी अच्छे हेयर ड्रेसर से ही करवाए| कलर का भी सोच समझ कर चुनाव करें |

धुंघराले बालों की समस्या से ऐसे निपटे 

एक सबसे अच्छा तरीका यह हो सकता है कि अपने चुंघराले बालों को छोटा कटवा लें और नियमित रूप से ब्रश करें। बड़े रोलर से अपने बालों को व्यवस्थित करें। कंडीशनर का बराबर इस्तेमाल करें।

बालों को सीधा करने के लिए जबरदस्ती नहीं करनी चाहिए ? रसायन से सीधा करने से बालों का लचीलापन जाता रहता है और कुछ अंशों में उनकी उम्र छोटी हो जाती है। फिर भी इसकी 100 प्रतिशत गारंटी नहीं कि इलाज के बाद वे सीधे हो ही जाएंगे।

आप ब्लंट कट करवाएं-अगर सभी उसी लंबाई के हुए तो आपके बाल सीधे नज़र आएंगे।

बालों को सुखाने की एक सरल विधि : जो आपके बालों को भी सीधा कर देगी। जब बाल गीले रहें तभी फ़ोम कवर वाले रोलर को सिर के ऊपर रखें। शेष बालों को सिर के चारों ओर, एक ही दिशा में लपेटें। बिखरने न देने के लिए पिन का इस्तेमाल करें। फिर इसे आधे घंटे तक सूखने के लिए छोड़ दें। पिन हटा दे-अब बालों को उलटी दिशा में लपेटें। फिर पिन लगाएं और दस मिनट तक सूखने के लिए छोड़ दें। अब तक आपके बाल सूख ही गए होंगे। पिन हटा दें और अच्छी तरह ब्रश करें।



About allinoneindia.net


Welcome to All In One India | allinoneindia.net is a junction , where you opt for different service and information.

Follow Us


© 2016 to 2018 www.allinoneindia.net , All rights reserved.