क्या कहता है आपके शरीर पर तिल ?


क्या कहता है आपके शरीर पर तिल ?

ज्यादातर लोग तिल को शरीर के अंग की खूबसूरती बढ़ने का चिह्न मानते है. किन्तु तिल के शरीर पर होने से कुछ मजेदार बाते जुडी है. ये बाते तिल के शरीर के अलग अलग अंगो पर मौजूद होने से सम्बंधित है !

शरीर के तिल से जुडी कुछ बाते

 ज्यादातर लोग तिल को शरीर के अंग की खूबसूरती बढ़ने का चिह्न मानते है. किन्तु तिल के शरीर पर होने से कुछ मजेदार बाते जुडी है. ये बाते तिल के शरीर के अलग अलग अंगो पर मौजूद होने से सम्बंधित है, तो आइये जानते है इन्ही मज़ेदार बातो को

जानें: आपके शरीर में इन जगहों पर तिल का क्या होता है

  • गाल पर तिल – माना जाता है कि जिन लोगो के गाल पर तिल होता है वे लोग अपनी पढाई लिखाई में बहुत होशियार होते है. ऐसे लोग हमेशा बड़ी खुशियों की तरफ भागते है. गाल पर तिल वाले लोग जिस बात को एक बार ठान लेते है उसे करके ही मानते है.
  • ठुड्डी पर तिल – ठुड्डी पर तिल वाले लोगो को बहुत भाग्यशाली माना जाता है, साथ ही ये भी कहा जाता है कि ऐसे लोगो को नाम, धन और शोहरत कमाने के लिए ज्यादा मेहनत नही करनी पड़ती.
  • कान पर तिल – कान पर तिल वाले लोगो के नसीब में धन – दौलत की कभी कमी नही रहती, साथ ही इनकी किस्मत में घूमना – फिरना भी लिखा होता है. ऐसे लोगो को भी बहुत भाग्यशाली माना जाता है.
  • आँख के किनारे पर तिल – जिनके आँख के किनारे पर तिल होता है ऐसे लोगो का आचरण बहुत ही साफ़ होता है और आप ऐसे लोगो पर आँखे मूंद कर, बिना शक किये भरोसा कर सकते है क्योकि ऐसे लोग कभी किसी को धोखा नही देते और ना ही कभी किसी के विश्वास को ठेस पहुँचाने की कोशिश करते.
  • भौंह पर तिल – जिन लोगो की दायी भौंह पर तिल होता है ऐसे लोगो का शादीशुदा जीवन बहुत ही खुशियों से भरा होता है, इन लोगो को अपने सभी कार्यो में सफलता प्राप्त होती है, साथ ही ऐसे लोगो के घर और जीवन में सुखो का वास होता है किन्तू अगर आपकी बायीं भौंह पर तिल है तो आपको आपके कार्यो को करने के लिए मेहनत करनी पड़ेगी और कई बार तो आपके कड़े परिश्रम के बाद भी आपको  सफलता प्राप्त नही होगी इसिलिए ऐसे लोगो के पास खास धन भी नही होता.
  • नाक पर तिल – नाक पर तिल वाले लोग बहुत अच्छे मित्र बनने के लायक होते है क्योकि इनका मन साफ़ होता है और इसिलिए आप ऐसे लोगो पर भी आँख मूंद कर विश्वास कर सकते हो. ऐसे लोगो को बहुत मेहनती भी माना जाता है.
  • माथे पर तिल – वे लोग जिनके माथे के दायी तरफ तिल होता है ऐसे लोगो के पास सोचने समझने की अदभुत छमता होती है, साथ ही साथ इन् लोगो में अपने कार्यो को पूरा करने की भी अद्वितीय शक्ति होती है. ऐसे लोगो के पास कभी धन की कमी नही होती, इन्हें अपने जीवन में सारे सुख मिलते है और अपने हर कार्य में सफलता. लेकिन जिन लोगो के माथे पर बायीं ओर तिल है तो ऐसे लोगो को अपनी जिम्मेदारियों का आभास नही होता, ये धन तो कमाते है लेकिन जितना धन ये कमाते है उतना ही धन ये साथ की साथ उड़ा भी देते है. इस तरह ऐसे लोगो को बहुत कम सफलता मिलती है. लेकिन वे लोग जिनके माथे के बीच में तिल है तो सफलता इन लोगो के कदमो को चूमती है और ऐसे लोग हमेशा सम्मान के हकदार होते है.
  • गले पर तिल – गले या गर्दन पर तिल वाले लोग अपने स्वभाव के कारण चर्चा में रहते है क्योकि आप इनके स्वभाव में एक अजीब सी उथल पुथल देखते है. ये एक में आपको खुश नज़र आते है तो दुसरे ही पल ये उदास हो जाते है. इन लोगो को अपने जीवन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए शुरुआत में थोड़ी तकलीफों का सामना करना पड़ता है लेकिन बाद में इनका जीवन भी खुशियों से भर जाता है और इन्हें अच्छे निर्णय मिलते है.
  • हाथ पर तिल – ऐसे लोग आत्मविश्वास से भरे होते है और इनको इनके कार्य में सफलता पाने से कोई रोक नही पाता. हाथ पर तिल वाले लोग अपने जीवन में अनेक ऊँचाईयो को छुते है.
  • उंगलियों पर तिल – उंगलियों पर तिल वाले लोगो को धोखेबाज परवर्ती का समझा जाता है. इन लोगो पर आप कभी भी विश्वास नही कर सकते क्योकि ये अपने कार्यो से सभी को ठेस पहुचते है और दुःख देते है और ऐसे लोग कभी भी किसी के भी विश्वास पात्र नही होते.

कुछ न कुछ जरूर कहता है आपके शरीर पर तिल 

लगभग हर पुरूष व स्त्री के किसी न किसी अंग पर तिल अवश्य पाया जाता है। उस तिल का महत्व क्या है? शरीर के किस हिस्से पर तिल का क्या फल मिलता है। ज्‍योतिष के अभिन्‍न अंग सामुद्रिकशास्‍त्र के अनुसार शरीर के किसी भी अंग पर तिल होना एक अलग संकेत देता है। यदि तिल चेहरे पर कहीं भी हो, तो आप व्‍यक्ति के स्‍वभाव को भी समझ सकते हैं। 
खास बात यह है कि पुरुष के दाहिने एंव सत्री के बायें अंग पर तिल के फल को शुभ माना जाता है। वहीं अगर बायें अंगों पर हो तो मिले जुले परिणाम मिलते हैं। 
इससे पहले कि हम आपको बतायें कि शरीर के किस अंग पर तिल होने के क्‍या प्रभाव होते हैं, हम आपको बतायेंगे कुछ अंगों के नाम और वो इंसान के व्‍यक्तित्‍व को किस तर उल्‍लेखित करते हैं। यह भी सामुद्रिक शास्‍त्र की एक विधा है, जिसमें इंसान के व्‍यक्ति को उसके अंगों को देख पहचान सकते हैं। 

उदाहरण के तौर पर- जैसे जिन पुरुषों के कंधे झुके हुए होते हैं, वो शालीन स्‍वभाव के और गंभीर होते हैं। वहीं चौड़ी छाती वाले पुरुष धनवान होते हैं तो लाल होंठ वाले पुरुष साहसी होते हैं।  
वहीं महिलाओं का पेट, वक्ष और होंठ से लेकर लगभग सभी प्रमुख अंग कुछ न कुछ कहते हैं।

  • तिल के प्रभाव माथे पर दायीं ओर माथे के दायें हिस्से पर तिल हो तो- धन हमेशा बना रहता है। 
  • माथे पर बायीं ओर माथे के बायें हिस्से पर तिल हो तो- जीवन भर कोई न कोई परेशानी बनी रहती है। 
  • ललाट पर तिल ललाट पर तिल होने से- धन सम्पदा व ऐश्वर्य का भोग करता है। 
  • ठुड्डी पर तिल ठुड्डी पर तिल होने से- जीवन साथी से मतभेद रहता है। 
  • दायीं आंख के ऊपर दांयी आंख के ऊपर तिल हो तो- जीवन साथी से हमेशा और बहुत ज्‍यादा प्रेम मिलता है। 
  • बायीं आंख के ऊपर बायीं आंख पर तिल हो तो- जीवन में संघर्ष व चिन्ता बनी रहेगी। 
  • दाहिने गाल पर दाहिने गाल पर तिल हो तो- धन से परिपूर्ण रहेगें। 
  • बायें गाल पर बायें गाल पर तिल हो तो- धन की कमी के कारण परेशान रहेंगे। 
  • होंठ पर तिल होंठ पर तिल होने से- काम चेतना की अधिकता रहेगी। 
  • होंठ के चीने होंठ के नीचे तिल हो तो- धन की कमी रहेगी। 
  • होंठ के ऊपर तिल होंठ के उपर तिल हो तो- व्यक्ति धनी होता है, किन्तु जिद्दी स्वभाव का होता है। 
  • बायें कान पर बायें कान पर तिल हो तो- दुर्घटना से हमेशा बच कर रहना चाहिये।
  • दाहिने कान पर दाहिने कान पर तिल होने से- अल्पायु योग किन्तु उपाय से लाभ होगा। 
  • गर्दन पर तिल गर्दन पर पर तिल हो तो- जीवन आराम से व्यतीत होगा, यक्ति दीर्घायु, सुविधा सम्पन्न तथा अधिकारयुक्त होता है। 
  • दाहिनी भुजा पर दायीं भुजा पर पर तिल हो तो- साहस एंव सम्मान प्राप्त होगा। 
  • बायीं भुजा बायीं भुजा पर तिल होने से- पुत्र सन्तान होने की संभावना होती है और पुत्र से सुख की प्राप्ति होती है। 
  • छाती पर दाहिनी ओर छाती पर दाहिनी ओर तिल होने से- जीवन साथी से प्रेम रहेगा। 
  • छाती पर बायीं ओर छाती पर बायीं ओर तिल होने से- जीवन में भय अधिक रहेगा। 
  • नाक पर तिल नाक पर तिल हो तो- आप जीवन भर यात्रा करते रहेंगे। 
  • दा‍यीं हथेली पर दायीं हथेली पर तिल हो तो- धन लाभ अधिक होगा। 
  • बायीं हथेली पर बायीं हथेली पर पर तिल हो तो- धन की हानि होगी। 
  • पैर पर तिल पांव पर तिल होने से- यात्रायें अधिक करता है। 
  • भौहों के मध्‍य भौहों के मध्य तिल हो तो- विदेश यात्रा से लाभ मिलता है। 
  • जांघ पर तिल जांघ पर तिल होने से- ऐश्वर्यशली होने के साथ अपने धन का व्यय भोग-विलास में करता है। उसके पास नौकरों की कमी नहीं रहती है। 
  • स्‍त्री की भौहों पर स्त्री के भौंहो के मध्य तिल हो तो- उस स्त्री का विवाह उच्चाधिकारी से होता है। 
  • कमर पर कमर पर तिल होने से- भौतिक सुख-सुविधाओं की प्राप्ति होती है। 
  • पीठ पर तिल पीठ पर तिल हो तो- जीवन दूसरे के सहयोग से चलता है एंव पीठ पीछे बुराई होगी। 
  • नाभि पर तिल नाभि पर तिल होने से- कामुक प्रकृति एंव सन्तान का सुख मिलता है। 
  • बायें कंधे पर बायें कंधे पर तिल हो तो- मन में संकोच व भय रहेगा। 
  • दायें कंधे पर दायें कंधें पर तिल हो तो- साहस व कार्य क्षमता अधिक होती है।


© 2016 to 2018 www.allinoneindia.net , All rights reserved.