डेरेन ब्रावो ने कहा, मैंने जब डेब्यू किया तब भी मेरा यही लक्ष्य था


डेरेन ब्रावो ने कहा, मैंने जब डेब्यू किया तब भी मेरा यही लक्ष्य था

एंटीगुआ। बाएं हाथ के बल्लेबाज डेरेन ब्रावो ने कहा है कि बचपन से उनका सपना अपने देश वेस्टइंडीज के लिए 100 टेस्ट मैच खेलना था और अभी भी वे इसी सपने को लेकर जी रहे हैं। 

बुधवार (6 फरवरी) को 30 साल के होने जा रहे ब्रावो की लंबे समय बाद विंडीज टेस्ट टीम में वापसी हुई है। उन्होंने अपनी वापसी को सार्थक करते हुए एंटीगुआ में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में संयम से भरी बेहतरीन पारी खेली थी। वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो को दिए इंटरव्यू में ब्रावो ने कहा कि बचपन से मेरा लक्ष्य वेस्टइंडीज के लिए 100 टेस्ट मैच खेलना था। मैंने जब पदार्पण किया तब भी यही मेरा लक्ष्य था और अभी भी मेरा यही लक्ष्य है। 
मुझे नहीं लगता कि कोई इसे बदल सकता है। मैंने अभी तक 51 टेस्ट खेल लिए हैं। अब बस कुछ और टेस्ट बाकी हैं। उम्मीद है कि मैं अगले पांच साल तक और खेल सकूं। टेस्ट क्रिकेट निश्चित तौर पर खिलाड़ी की असली परीक्षा होता है।






© 2016 to 2018 www.allinoneindia.net , All rights reserved.