विश्व कप की तैयारी के लिए मुश्किल परिस्थितियों में बल्लेबाजी करना चाहते थे : रोहित


विश्व कप की तैयारी के लिए मुश्किल परिस्थितियों में बल्लेबाजी करना चाहते थे : रोहित

वेलिंगटन। कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने रविवार को कहा कि उनकी टीम आगामी विश्व कप की तैयारियों के अंतर्गत मुश्किल परिस्थितियों में बल्लेबाजी करना चाहती थी इसलिए उन्होंने यहां 5वें वनडे में पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। 

रोहित ने कहा कि यह जानने के बावजूद कि वेस्टपैक स्टेडियम की पिच पर नमी होगी और यह तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी, उन्होंने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया। उनके साहसिक फैसले का फल मिला और भारत ने मैच 35 रनों से जीतकर श्रृंखला 4-1 से जीत ली।रोहित ने मैच के बाद कहा कि मैंने टॉस से पहले पिच को देखा था और जानता था कि इस पर नमी होगी, जो शुरू में तेज गेंदबाजों के लिए मददगार होगी। बतौर टीम हम यह देखना चाहते थे कि हम चुनौतियों का सामना कैसे करते हैं, क्योंकि विश्व कप के दौरान हमें इस तरह के हालात मिलेंगे।उन्होंने कहा कि हां, हमने शुरू में 4 विकेट जल्दी गंवा दिए, लेकिन यहां हमारे लिए सीखने के लिए था कि हमें कैसे बल्लेबाजी करनी चाहिए, जब गेंद स्विंग कर रही हो और परिस्थितियां मददगार नहीं हों। पहले 30 ओवरों में रनगति इतनी अच्छी नहीं थी लेकिन हम फिर भी 250 के करीब रन बनाने में सफल रहे, जो काफी सकारात्मक चीज है। श्रृंखला में 4-1 की जीत भारत की न्यूजीलैंड की सरजमीं पर 1967 में दौरा करने के बाद से सभी प्रारूपों में सबसे बड़ी जीत है और रोहित ने कहा कि यह बड़ी उपलब्धि है।


उन्होंने कहा कि यहां आना और न्यूजीलैंड को 4-1 से मात देना बड़ी उपलब्धि है। वे काफी अच्छा क्रिकेट खेलते हैं इसलिए हमारे लिए यह अच्छी जीत रही। पिछली बार हम न्यूजीलैंड से 0-4 से हार गए थे। हमारे पास कुछ साबित करने के लिए नहीं था लेकिन हम सिर्फ अच्छा क्रिकेट खेलना चाहते थे, जो हम पिछले 8 से 10 महीनों से कर रहे हैं।अम्बाती रायुडु ने 113 गेंदों में 90 रन की पारी खेली जिससे भारतीय टीम प्रतिस्पर्धी स्कोर खड़ा सकी और रोहित ने कहा कि विश्व कप से पहले इस पारी से इस बल्लेबाज के आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होगी। रायुडु ने विजय शंकर (64 गेंद में 45 रन) के साथ 5वें विकेट के लिए 98 रन की भागीदारी निभाई।उन्होंने कहा कि ऐसे हालात में बल्लेबाजी करके रायुडु के आत्मविश्वास में काफी बढ़ोतरी होगी। हमने 18 रन पर 4 विकेट गंवा दिए थे, ऐसे में आपको टीम की मदद करने की जरूरत होती है। वह काफी वर्षों से खेल रहा है और उसने अपने अनुभव का पूरा इस्तेमाल किया। वह काफी अच्छा खेल रहा था और मैं चाहूंगा कि वह इसी तरह लगातार अच्छा करता रहे। हमें अभी अपनी सरजमीं पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी 5 और मैच खेलने हैं इसलिए अगर वह इसी तरह बल्लेबाजी करता है तो हमारे लिए अच्छा होगा।

रोहित ने साथ ही कहा कि मैं इस पर टिप्पणी नहीं कर पाऊंगा कि विश्व कप में कौन चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करेगा लेकिन श्रृंखला के बारे में बात करते हुए मैं कह सकता हूं कि उसे इस श्रृंखला से काफी आत्मविश्वास मिलेगा, उसने हमारे लिए मैच खत्म किया। उन्होंने शंकर की भी प्रशंसा की और कहा कि विजय ने शानदार बल्लेबाजी की। मैं निराश हूं कि वह दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से आउट हो गया, उसे 50 या 100 रन बनाने चाहिए थे।केदार जाधव की तारीफ करते हुए रोहित ने कहा कि उनकी मौजूदगी से टीम में संतुलन बनता है। केदार दूसरे स्पिनर के तौर पर टीम में संतुलन मुहैया कराता है। मैं उसे स्पिनर ही मानता हूं, क्योंकि हर मैच में वह 6 या 7 ओवर गेंदबाजी करता है और 1 विकेट भी चटकाता है। रविवार को भी केन विलियम्सन का विकेट काफी अहम था। उसने भागीदारी का अंत किया।युवा शुभमन गिल पिछले 2 वनडे में मिले मौकों का फायदा नहीं उठा सके तो रोहित ने कहा कि वह बेहद प्रतिभाशाली खिलाड़ी है, केवल 2 मैचों से आप फैसला नहीं कर सकते। यहां से वह काफी कुछ सीख लेगा। वह शीर्ष क्रम का बल्लेबाज है, वह ऐसे हालात में ही खेलेगा, जहां गेंद स्विंग करेगी तो इससे उसे मदद मिलेगी। उसने अच्छा किया है और मुझे ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि वह भारत के लिए लंबे समय के लिए क्यों नहीं खेल सकता।



© 2016 to 2018 www.allinoneindia.net , All rights reserved.